वैदिक विधि से घर में मंगल की पूजा करने से मंगल दोष दूर हो सकता है। मंगल ग्रह को वैदिक ज्योतिष में बहुत महत्व दिया जाता है और अगर इस ग्रह की दशा आपकी कुंडली में चल रही है तो यह आपके जीवन में कई प्रकार की समस्याओं का कारण बन सकता है।

ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि मंगल की पूजा से लोगों को स्वास्थ्य, समृद्धि, शक्ति तथा बल मिलता है। मंगल की पूजा के लिए सबसे अच्छी तिथि मंगलवार होती है और यह पूजा अधिकतर लोगों द्वारा की जाती है।

आप मंगल की पूजा के लिए घर में एक मंगल मूर्ति की स्थापना कर सकते हैं। पूजा के लिए आप पूजा सामग्री जैसे घी, दीपक, धूप, फूल, सिंदूर, आदि की आवश्यकता होती है। आप पूजा के विविध विधान कर सकते हैं जैसे आरती, मंत्र, पूजा की थाली घूमाना आदि।

इसके अलावा, आप मंगल की दशा से पीड़ित हैं तो उपाय के रूप में मंगल के मंत्रों का जाप भी कर सकते ह
यह जानकारी बहुत महत्वपूर्ण है। मंगलवार के दिन मंगल ग्रह का दिन होता है, जिसे हिंदू धर्म में बहुत महत्व दिया जाता है। आपने बताया है कि मंगलवार के दिन व्रत रखने और साधना पूजन करने से बहुत लाभ होता है।

सूर्योदय से पहले उठकर निवृत्त होना चाहिए और तन-मन को स्वच्छ करना चाहिए। इसके बाद लाल रंग के नए वस्त्र को धारण करना चाहिए और उत्तर दिशा की ओर मुख करके मण्डप में बैठना चाहिए।

यह बहुत ही महत्वपूर्ण तरीका है जिससे हम मंगल ग्रह के दिन अपने तन-मन को शुद्ध कर सकते हैं और साधना पूजन कर सकते हैं। फिर हमें उसके द्वारा अधिक लाभ प्राप्त हो सकते हैं।

This information is very important. Tuesday is the day of Mars, which is given great importance in Hinduism. You have told that there is a lot of benefit by keeping fast and worshiping on Tuesday.

There should be awakening before sunrise and the body and mind should be cleaned. After this one should wear new red colored clothes and sit in the mandap facing north.

This is a very important way by which we can purify our body and mind on the day of Mars and perform sadhna pujan. Then we can get more benefits from that.

https://allbhajanupdate.blogspot.com/home

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *